Olympic 2020: कुछ ऐसे पीवी सिंधु जापानी यामागुची को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचीं, पदक की उम्मीदें बरकरार
Olympic 2020: कुछ ऐसे पीवी सिंधु जापानी यामागुची को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचीं, पदक की उम्मीदें बरकरार
Newspapers updated 11 months ago

Olympic 2020: कुछ ऐसे पीवी सिंधु जापानी यामागुची को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचीं, पदक की उम्मीदें बरकरार

Olympic 2020: शुरुआती गेम में एक समय तक मुकाबला बराबरी का चल रहा था, लेकिन वक्त आगे बढ़ा, तो सिंधु की आक्रामकता भी अगले स्तर पर पहुंच गयी. मानो विश्व नंबर पांच यामागुची ने सिंधु के सामने सिरेंडर कर दिया और भारतीय खिलाड़ी ने पहला गेम सिर्फ 23 मिनट के अंतराल में 21-13 के विशाल अंतर से जीतकर शानदार मनोवैज्ञानिक बढ़त बना ली.

नयी दिल्ली: 

Olympic 2020 (July 30Th): भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने शुक्रवार को करोड़ों  भारतीयों की  खुशियों में इजाफा करते हुए ओलिंपिक के महिला वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. पीवी सिंधु ने जरुरत के समय बेहतरीन खेल का परिचय देते हुए जापान की और रैंकिंग में खुद से दो पायदान ऊपर यामागुची एकाने को सीधे गेमों में हराकर अतिंम चार में प्रवेश कर लिया. सिंधु ने मुकाबले को पूरी तरह से एकतरफा बनाते हुए मैच 21-13 और 22-20 से अपनी झोली में डालकर करोड़ों भारतीय खेलप्रेमियों की खुशियों में और इजाफा करते हुए एक और पदक की उम्मीद जगा दी. और जिस अंदाज में सिंधु खेल रही हैं और अपने से ऊपर की रैकिंग वाले खिलाड़ियों को मात दे रही हैं, उसे देखते हुए अगर कहा जाए कि वह स्वर्ण पदक भी इस बात जीत सकती हैं, तो चौंकाने वाली बात नहीं ही होगी.  


मैच की बात करें, तो शुरुआती गेम में एक समय तक मुकाबला बराबरी का चल रहा था, लेकिन जैसे-जैसे वक्त आगे बढ़ा, तो सिंधु की आक्रामकता भी अगले स्तर पर पहुंच गयी. सिंधू ने अपनी आक्रामक रैलियों और चपलता से जापानी प्रतिद्वंद्वी को बैकफुट पर आने पर मजबूर कर दिया. मानो विश्व नंबर पांच यामागुची ने सिंधु के सामने सिरेंडर कर दिया और भारतीय खिलाड़ी ने पहला गेम सिर्फ 23 मिनट के अंतराल में 21-13 के विशाल अंतर से जीतकर शानदार मनोवैज्ञानिक बढ़त बना ली. 

पहले के मुकाबले दूसरे गेम में दोनों खिलाड़ियों के बीच कड़ा संघर्ष देखने को मिला और यामागुची ने पिछड़ने के बाद गेम में वापसी करते हुए शानदार जुझारू क्षमता का परिचय दिया, लेकिन सबसे जरूरी पलों  में सिंधु उनके खिलाफ बीस साबित हुयीं. एक समय सिंधु ने जापानी खिलाड़ी पर 6-2 से बढ़त हासिल कर ली थी, लेकिन यहां से दूसरा गेम उन्नीस-बीस होता रहा. कभी  सिंधु आगे, तो कभी यामागुची. सिंधु ने शुरुआती बढ़त का फायदा गंवा दिया और एक समय गेम 18-18 की  बराबरी पर था. सिंधु यहां से 1 प्वाइंट से पिछड़ीं, लेकिन गेम फिर से 20-20 पर अटक गया. और सिंधु ने यहां से बढ़त लेते हुए गेम को 21-20  से खुद को आगे कर लिया. और फिर सिंधू ने जरूरी एक प्वाइंट पर कब्जा करते हुए दूसरा गेम 22-20 से जीतकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया.

0
0
0
0
0
0
0
0
0
0 Comments